अस्पतालों में गाइड लाइन का पालन प्राथमिकता से सुनिश्चित हो : प्रशांत त्रिवेदी
लखनऊः 08 फरवरी,। प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य प्रशान्त त्रिवेदी ने समस्त मुख्य चिकित्साधिकारियों एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षकों को निर्देश दिये कि 10 फरवरी, से प्रारम्भ होने वाले संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा के सफल संचालन हेतु समस्त आवश्यक तैयारियां 09 फरवरी को ही सुनिश्चित कर ली जायें। उन्होंने कहा कि सभी सम्बन्धित विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर इस अभियान को सफल बनाया जाये। साथ ही जिलाधिकारी के साथ बैठक कर अभियान को गति प्रदान की जाय। उन्होंने निर्देश दिये कि मेडिकल वेस्ट मैनेजमेन्ट को गम्भीरता से लेते हुए सभी मुख्य चिकित्साधिकारी जनपद के अस्पतालों में इसकी व्यवस्था प्राथमिकता से सुनिश्चित करायें। इस सम्बन्ध में निर्धारित गाइडलाइन का पूरा पालन सुनिश्चित किया जाय।

 प्रशान्त त्रिवेदी आज योजना भवन में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के समस्त मुख्य चिकित्साधिकारियों एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षकों को निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में टीबी रोग से ग्रसित मरीजों को चिन्हित कर उनका समुचित इलाज किया जाय तथा उनके बैंक खाते में निर्धारित धनराशि उपलब्ध करायी जाय। जिन मरीजों के बैंक खाते नहीं हैं उनके बैंक खाते शीघ्र खुलवाकर धनराशि खाते में उपलब्ध करायी जाये। उन्होंने समस्त मुख्य चिकित्साधिकारियों को निर्देश निर्देश दिये कि वह डिस्ट्रिक्ट टीबी फोरम की बैठक प्रत्येक दशा में 15 फरवरी तक अवश्य करें। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में आवश्यक दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जाय। आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ पात्र लाभार्थियों को पूर्ण पारदर्शिता के साथ उपलब्ध कराया जाय। उन्होंने इस योजना से आच्छादित लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड वितरित किये जाने में तेजी लाने के निर्देश दिये। 

वीडियो कान्फ्रेंसिंग के दौरान मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन  पंकज कुमार ने हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर के रूप में विकसित किये जा रहे प्रदेश के चिन्हित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं उप केन्द्रों के सुदृढ़ीकरण कार्य में तेजी लाते हुये इन्हें 25 फरवरी 2019 तक क्रियाशील कराने के निर्देश दिये।

वीडियो कान्फ्रेंसिंग के दौरान सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्रीमती वी. हेकाली झिमोमी, प्रबन्ध निदेशक मेडिकल सप्लाईज कारपोरेशन श्रीमती श्रुति सिंह, सी0ई0ओ0 साचीज श्रीमती संगीता सिंह, महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री पदमाकर सिंह सहित विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।