भारत औऱ पाकिस्तान की सैन्य ताकत

पुलवामा आतंकी (NKB) हमले की तेहरवीं भी नही कि भारतीय सेना ने 12 दिनों बाद भारत ने पाकिस्तान में घुसकर कई आतंकी ठिकानों को नष्ट कर दिया है। वायुसेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के क्षेत्र को पार करके पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा के बालाकोट में जैश के सबसे पुराने कैंप पर हमला किया है। कैंप का मुखिया अजहर मसूद का साला यूसुफ अजहर समेत सैकड़ों आतंकवादी मारे जाने की बात मीडिया में हो रही हैं। दुनिया भर के देशों की सैन्य ताकत का सालाना आकलन करने वाली संस्था ग्लोबल फायर पावर के मुताबिक पाकिस्तान भारत के सामने कहीं नहीं ठहरता। पाकिस्तान की सैन्य शक्ति हर लिहाज में भारत से आधी है। ग्लोबल फायर पावर के 2018 के इंडेक्स में यह जानकारी सामने आई थी। पाकिस्तान के पास जहां 1,281 लड़ाकू विमान हैं, वहीं भारत के पास 2,185 लड़ाकू विमान हैं। भारत के पास 4,426 टैंक हैं जबकि पाकिस्तान के पास सिर्फ 2182 टैंक हैं। 136 देशों के इंडेक्स में भारत चौथे स्थान पर है। वहीं इस सूची में पाकिस्तान 17वें स्थान पर है।


भारत-पाकिस्तान की सैन्य क्षमता
                 भारत                                   --- पाकिस्तान
सैनिक      13.6 लाख                              -- 6.37 लाख
टैंक           4426                                     -- 2182
युद्धपोत      295                                          --- 197
लड़ाकू विमान  2185                                     --- 1281
हेलीकॉप्टर    720                                           -- 328
रक्षा खर्च 41 खरब 23 अरब रुपये              --   7 खरब 81 अरब रुपये

भारत का रक्षा बजट पाक से की गुना ज्यादा
इंटरनैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ स्ट्रैटेजिक स्टडीज (आईआईएसएस) के अनुसार भारत ने अपने 14 लाख सक्रिय सैनिकों के लिए 2018 में 58 अरब डॉलर (41 खरब 23 अरब एक करोड़ 70 लाख रुपये) का रक्षा बजट पारित किया था। यह धन राशि भारत की जीडीपी का 2.1 फीसदी है। वहीं, पिछले साल पाकिस्तान ने अपने 6,53,000 सैनिकों के लिए 11 अरब डॉलर (7 खरब 81 अरब 95 करोड़ रुपये) का रक्षा बजट पास किया था। यह धन राशि पाकिस्तान की जीडीपी का 3.6 फीसदी है। पाकिस्तान को साल 2018 में 10 लाख डॉलर (सात करोड़ 10 लाख रुपये) की सैन्य सहायता भी मिली थी। स्टॉकहोम इंटरनैशनल पीस रिसर्च इंस्टिट्यूट (एसआईपीआरआई) के अनुसार साल 1993 से 2006 के बीच पाकिस्तान ने सेना पर अपनी बजट का 20 फीसदी से अधिक हिस्सा खर्च किया है। इसके मुताबिक साल 2017 में सरकारी खर्च में 16.7 फीसदी हिस्सा सेना पर खर्च किया गया था। वहीं भारत ने उसी अवधि के दौरान अपने बजट का 12 फीसदी हिस्सा रक्षा पर खर्च किया था, जबकि साल 2017 में यह 9.1 फीसदी था। पुलवामा हमले के बाद पूरा देश गुस्से में है। हर कोई मोदी सरकार से पाकिस्तान और आतंकवाद के खिलाफ सख्त कदम उठाने की अपील कर रहा है। पाकिस्तान पीएम इमरान खान ने यह कहते हुए भारत को चेतावनी दी है कि हमला हुआ तो हम जवाब देंगे। भारत और पाकिस्तान के बीच 1947 से ही अभी तक लगातार टेंशन चल रहा है।


 दोनों देशों की ताकत


मिलिट्री बजट
- 2018 में भारत ने अपनी जीडीपी का 2.1 परसेंट (58 बिलियन डॉलर) बजट मिलिट्री को अलॉट किया।
- वहीं पिछले साल पाकिस्तान ने खुद की जीडीपी का 3.6 परसेंट (11 बिलियन डॉलर) अपनी रक्षा पर खर्च किया। पाकिस्तान को 2018 में 100 मिलियन डॉलर की विदेशी सहायत भी प्राप्त हुई।


कितनी है सेना
- इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फोर स्ट्रेटजिक स्टेडीज के मुताबिक, भारत के पास 14 लाख एक्टिव सैनिक हैं।
- वहीं पाकिस्तान के पास 6 लाख 53800 सैनिक हैं। पाकिस्तान ने 1993 से 2006 के बीच अपने एनुअल खर्चे से 20 परसेंट ज्यादा सिर्फ मिलिट्री पर खर्च किए।
- पाक में 2017 में सरकारी खर्चे का 16.7 परसेंट मिलिट्री पर खर्च हुआ।
- वहीं इसी पीरियड में भारत में सरकारी खर्चे का 12 परसेंट के अंदर ही मिलिट्री पर खर्च किया गया। 2017 में यह 9.1 परसेंट था।


मिसाइल और न्यूक्लियर हथियार
- दोनों ही राष्ट्रों के पास न्यूक्लियर हथियारों के इस्तेमाल के लिए बैलेस्टिक मिसाइल्स हैं। भारत के पास 9 तरह की ऑपरेशनल मिसाइल हैं। इनमें अग्नि-3 (3 से 5 हजार किमी की रेंज) शामिल है।
- पाकिस्तान का मिसाइल प्रोग्राम चाइना की मदद से तैयार किया गया है। पाकिस्तान के पास मोबाइल शॉर्ट और मीडियम रेंज के हथियार हैं। यह भारत के किसी भी हिस्से तक पहुंचने में सक्षम हैं।
- शाहीन-2 पाकिस्तान की सबसे लंबी रेंज की मिसाइल है। इसकी 2 हजार किमी तक की रेंज है।
- पाकिस्तान के पास 140 से 150 न्यूक्लियर हथियार (परमाणु हथियार) हैं। वहीं इंडिया के पास 130 से 140 परमाणु हथियार हैं।


आर्मी
- इंडिया के पास 12 लाख जवानों की मजबूत आर्मी है। 3565 बैटल टैंक, 3100 इंफेंट्री फाइटिंग व्हीकल्स, 336 आर्मर्ड पर्सनल कैरीअर और 9719 तोपें हैं।
- वहीं पाकिस्तान आर्मी के पास 5 लाख 60 हजार सैनिक हैं। 2496 टैंक, 1605 आर्मर्ड पर्सनल कैरीअर, 4472 तोपें हैं। इनमें 375 सेल्फ-प्रोपेल्ड हॉवित्जर शामिल हैं।


एयर फोर्स
- इंडियन एयर फोर्स के पास 1 लाख 27200 का स्टाफ है। 814 कॉम्बेट एयरक्राफ्ट हैं।
- पाकिस्तान के पास 425 कॉम्बेट एयरक्राफ्ट हैं। इसमें चाइना का F-7PG और अमेरिका F-16 फाइटिंग फाल्कन जैट भी शामिल है।


नेवी
- इंडियन नेवी में एक एयरक्राफ्ट कैरिअर,16 सबमरीन, 14 डिस्ट्रॉयर, 13 युद्ध पोत, 106 पेट्रोल और कॉस्टल जहाज शामिल हैं। 75 कॉम्बेट कैपेबल एयरक्राफ्ट हैं।
- नेवी के पास 67,700 लोगों का स्टाफ है।
- पाकिस्तान के पास 9 युद्ध पोत, 8 सबमरीन, 17 पेट्रोल और कॉस्टल जहाज और 8 कॉम्बेट कैपेबल एयरक्राफ्ट हैं