लघु सिंचाई के कार्यों को गुणवत्ता के आधार पर पूर्ण किया जाये :बघेल
लघु सिंचाई के निर्माण कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं :लघु सिंचाई मंत्री

लघु सिंचाई मंत्री ने बुन्देलखण्ड पैकेज के तहत निर्धारित लक्ष्यों  को समय से पूर्ण करने के दिये निर्देश

लखनऊ,  22 फरवरी।  उत्तर प्रदेश के लघु सिंचाई मंत्री,  एस.पी. सिंह बघेल ने कहा है कि किसानों को बेहतर सिंचाई की सुविधा सुलभ कराने के लिए लघु सिंचाई के कार्यों को गुणवत्ता के आधार पर पूर्ण किया जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि बुन्देलखण्ड पैकेज के तहत लघु सिंचाई के कार्यो को भी प्राथमिकता से पूर्ण किया जाना सुनिश्चित हो, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही और शिथिलता नहीं बरती जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि वर्ष 2018-19 के तहत प्रस्तावित निःशुल्क बोरिंग तथा ग्राम स्वराज अभियान में निःशुल्क बोरिंग योजना अन्तर्गत अनुसूचित जाति, जनजाति के किसानों के संतृप्तिकरण के लिए चयनित ग्रामों के लक्ष्यों को भी वरीयता के आधार पर पूर्ण किया जाये।

श्री बघेल आज यहां योजना भवन में लघु सिंचाई विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने समीक्षा के दौरान सांसद आदर्श ग्राम योजना, गहरी बोरिंग की भौतिक एवं वित्तीय प्रगति, सिंचन क्षमता सृजन की प्रगति, ग्राउण्ड वाटर रिचार्जिंग की भी समीक्षा की। उन्होंने इन सभी योजनाओं की धीमी प्रगति पर गहरा असंतोष जताया। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियोें को निर्देशित किया कि विभागीय कार्यों में शिथिलता बरतने वाले अधिकारियों से स्पष्टीकरण प्राप्त किया जाये।

लघु सिंचाई मंत्री ने विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देशित किया कि बुन्देलखण्ड पैकेज और चैकडैम का भौतिक सत्यापन  कराया जाए और विभिन्न जिलों में निर्माणाधीन चेकडैमों की फोटोग्राफी भी कराई जाए ताकि निर्माण कार्य की गुणवत्ता को सुनिश्चित  किया जा सके। उन्होंने यह भी  निर्देश दिये कि निःशुल्क बोरिंग योजना के लक्ष्य  के सापेक्ष  मानक के अनुसार सैम्पल एकत्र करने की प्रगति का विवरण भी प्राप्त किया जाये। समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि निर्मित गहरे, मध्यम तथा सामूहिक नलकूपों के ऊर्जीकरण और जल वितरण प्रणाली की स्थापना पर हुयी प्रगति की भी समीक्षा सुनिश्चित की जाए।

प्रमुख सचिव, लघु सिंचाई, श्रीमती अनीता सिंह ने विभागीय प्रगति से अवगत कराते हुए जानकारी दी कि बुन्देलखण्ड पैकेज के अन्तर्गत चेकडैम एवं तालाबों का निर्माण कार्य तेजी से किया जा रहा है और समय से लक्ष्यों की पूर्ति कर ली जायेगी। उन्होंने यह भी बताया कि निःशुल्क बोरिंग, गहरी बोरिंग और मध्यम गहरी बोरिंग के निर्माण का कार्य प्रगति के अन्तिम चरण में है। इसी प्रकार सांसद आदर्श ग्राम योजना में अन्तर्गत निर्धारित कार्यों को प्रमुखता से पूर्ण किया जा रहा है, जो वर्तमान वित्तीय वर्ष में पूर्ण कर लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि विभाग के लिए निर्धारित बजट का सदुपयोग इसी वित्तीय वर्ष में कर लिया जायेगा। समीक्षा बैठक में विशेष सचिव, जुहेर बिन सगीर, मुख्य अभियन्ता, लघु सिंचाई डी0 एन0 शुक्ला सहित जिलों से आये वरिष्ठ अभियन्तागण और विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।