विकास के हर मोर्चे पर राज्य सरकार द्वारा प्रदेश की तस्वीर बदली: मुख्यमंत्री
शासन की योजनाओं को बिना भेदभाव के आमजन तक पहुंचाया

फ्लैगशिप योजनाओं में उत्तर प्रदेश अग्रणी

निवेश और विकास की यात्रा में प्रदेश उदाहरण बनकर उभरा

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को 24 माह में राष्ट्र को समर्पित कर दिया जाएगा

प्रयागराज कुम्भ के भव्य और दिव्य आयोजन से देश-विदेश में प्रदेश की सकारात्मक छवि बनी

मुख्यमंत्री टाइम्स नाउ समिट “थिंक प्रोग्रेस, थिंक यूपी” में सम्मिलित हुए

लखनऊ,15 फरवरी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने आज यहां आयोजित टाइम्स नाउ समिट “थिंक प्रोग्रेस, थिंक यूपी” में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा, षड़यन्त्रकारियों को सख्त सजा दी जाएगी। आंतकवाद के खिलाफ लड़ाई में पूरा देश एक साथ है। आतंक की इस लड़ाई में हम हर चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं।

मुख्यमंत्री  ने कहा राज्य सरकार ने विकास के हर मोर्चे पर जो कदम उठाए हैं, उससे प्रदेश की तस्वीर बदली है, प्रदेश को लेकर परसेप्शन बदला है। शासन की योजनाओं को बिना भेदभाव के आमजन तक पहुंचाने में प्रदेश सरकार ने कोई कसर नहीं छोड़ी है। निवेश और विकास की यात्रा में प्रदेश उदाहरण बनकर उभरा है। फ्लैगशिप योजनाओं में उत्तर प्रदेश अग्रणी है।

सौभाग्य योजना का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री  ने बताया कि योजना के लॉन्च के समय 4 करोड़ लोगों के पास बिजली कनेक्शन नहीं थे, इन्फ्रास्ट्रक्चर भी नहीं था, लेकिन अब सबके पास बिजली कनेक्शन है और बिजली पहुंचाने का काम अब भी जोर-शोर से जारी है। लोगों तक बिना भेदभाव के बिजली पहुंचाई गई। आज सभी जनपद, तहसील मुख्यालय रोशन हैं। 

प्रदेश में अवस्थापना विकास के लिए किए जा रहे कार्याें का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री  ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर काम चल रहा है। इसे 24 माह में राष्ट्र को समर्पित कर दिया जाएगा। 9 नये एयर पोर्ट के निर्माण पर कार्य चल रहा है जिनमें से 5000 हेक्टेयर में बनने वाला जेवर एयर पोर्ट सबसे बड़ा होगा। वाराणसी से प्रयागराज को जोड़ने वाला वाटर वे का मल्टी मोडल टर्मिनल वाराणसी में बनेगा। 

मुख्यमंत्री  ने कहा कि प्रयागराज कुम्भ के भव्य और दिव्य आयोजन से देश-विदेश में प्रदेश की सकारात्मक छवि बनी है। उत्तर प्रदेश से लोग भावनात्मक रूप से जुड़े हैं। प्रदेश में पहले उद्योगपति निवेश करने से कतराते थे, उनका कहना था कि पूर्ववर्ती सरकारों के उदासीन और असहयोगी रवैये से निवेशकों को कारोबार के लिए उचित माहौल नहीं मिल पाता था। प्रदेश सरकार ने निवेशकों की समस्या समझते हुए पॉलिसी के दायरे में रहकर उन्हें सही माहौल उपलब्ध कराया। 

मुख्यमंत्री  ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में भी हमने व्यापक सुधार किये हैं। बदलाव काम कर के ही लाया जा सकता है। कायाकल्प योजना से 90 हजार विद्यालयों को लाभ मिला है। डी0बी0टी0 से उत्तर प्रदेश के किसानों को सबसे अधिक फायदा हुआ। ओ0डी0ओ0पी0 योजना के तहत परम्परागत उत्पादों को बढ़ावा देते हुए हमने उद्योगों को टेक्नोलाॅजी के साथ जोड़ा है। मुख्यमंत्री कहा कि हमने हर क्षेत्र में युद्ध स्तर पर काम किया है।