पालिटेक्निक प्रवेश परीक्षा : 22 प्रतिशत विद्यार्थी ने नहीं हुए शामिल

लखनऊ। पूरे प्रदेश के 75 जनपदों में 931 परीक्षा केंद्रों पर पालिक्टेनिक प्रवेश परीक्षा संपन्न हुई। इस प्रवेश परीक्षा में कुल 22 प्रतिशत विद्यार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। दो पालियों में आयोजित इस प्रवेश परीक्षा के प्रथम पाली में जहां 17 प्रतिशत बच्चों ने प्रवेश परीक्षा छोड़ दी, वहीं दूसरी पाली में 27 प्रतिशत बच्चे प्रवेश परीक्षा में शामिल नहीं हुए। इस प्रवेश परीक्षा के लिए 19० विभागीय अधिकारियों को जोनल अधिकारी बनाया गया था। इसके अतिरिक्त उड़ाका दल की भी नियुक्ति की गयी थी। संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद के सचिव अवनेंद्र ने बताया कि पूरे प्रदेश में कुल 4,36,715 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। प्रात: कालीन सत्र में 3,33,474 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। इसमें 83 प्रतिशत परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। इनकी प्रवेश परीक्षा प्रदेश के 7०० परीक्षा केंद्रों पर प्रात: नौ बजे से बारह बजे के बीच कराई गयी। इसके अलावा दूसरी पाली की परीक्षा अपराह्न ढाई बजे से साढ़े पांच बजे के बीच संपन्न हुई। इसके लिए 231 परीक्षा केंद्र बनाये गये थे। दूसरी पाली में 1,०3,241 परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी लेकिन इसमें 73 प्रतिशत परीक्षार्थी शामिल हुए अर्थात 27 प्रतिशत ने परीक्षा छोड़ दी। उन्होंने बताया कि परीक्षा सकुशल संपन्न हो गयी। कहीं से भी कोई अप्रिय सूचना नहीं मिली है।