सड़क हादसे में पांच की मौत, मुख्यमंत्री ने शोक व्यक्त किया 
लखनऊ,। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर शनिवार को बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र में भीषण सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई। हादसे में 24 से अधिक लोग घायल हैं। इनमें सात लोगों की हालत बेहद नाजुक है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना में लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। साथ ही घायलों को समुचित इलाज कराने के निर्देश दिए हैं। 

यह हादसा सुबह करीब छह बजे हुआ। बताया गया है कि गुरुग्राम से बिहार जा रही तेज रफ्तार बस का चालक तरबूज से लदी ट्रैक्टर ट्राली से बचने के प्रयास में नियत्रंण खो बैठा। बस अनियंत्रित होकर पलट गई। इस घटना में बस में सवार बिहार निवासी विष्णु के दस वर्षीय पुत्र मनीष, नंदनी (7) रंजीत (47) और दो अन्य लड़कियों की मौत हो गई। अभी इनके शवों की पहचान नहीं हो पाई है। घायलों में रंजीत पुत्र दुखीलाल मेहता (24) ग्राम सुपौल जिला मधुबनी बिहार, अंजली पुत्री रंजीत (7), चंदिका पुत्री रंजीत (5), राम विनोद यादव पुत्र बिंदेश्वर (38) गुरुग्राम हरियाणा, बलराम यादव पुत्र सुदामा (34) पटेल नगर गुरुग्राम हरियाणा, रामबाबू पुत्र हरिकिशन यादव (35) हरियाणा, ऋषि पुत्र राम बाबू (1) हरियाणा, सरस्वती पुत्री रामबाबू (10)  हरियाणा, परशुराम मंडल पुत्र रामविलास (24) वरमोत्रा राघवपुर बिहार, संतोष मंडल पुत्र हनुमानी मंडल (25)  बिहार, राजकिशोर मंडल पुत्र हनुमानी मंडल (35) बिहार, बेबी पत्नी विनोद कुमार (26)  मधुबनी बिहार, विष्णु पुत्र रामप्रसाद (35), वंदना पुत्री विनोद कुमार (एक दिन ), चंद्रिका पुत्री रंजीत (5)  सुपौल, अंकित पुत्र रंजीत यादव (1), रीता पुत्री विष्णु (28) सुआ पट्टी बिहार, उदय शंकर पासवान पुत्र भिखारी (35) ढाई घाट मुजफ्फरपुर बिहार, शिवकली पत्नी रामबाबू (32) गुड़गांव हरियाणा, सुनीता देवी पत्नी रंजीत (40) डल्लापुर मधुबनी बिहार, श्रीकांत पुत्र गोपीचंद (30) विष्णुपुर दक्षिण टोला बघोना देवरिया उत्तर प्रदेश आदि शामिल हैं। घटना की जानकारी पर पहुंची पुलिस ने राहत और बचाव कार्य करते हुए घायलों को इलाज के लिए नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया है। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर हुए सड़क हादसे में हुई पांच लोगों की मौत और देवरिया में शुक्रवार को हुए सड़क हादसे में लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत लोगों की आत्मा की शांति की कामना करते हुए उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना भी व्यक्त की है। इसके साथ ही घायलों को बेहतर इलाज मुहैया कराने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिया है।