वाराणसी में नामांकन से लेकर 16 मई तक के प्रचार में अजय राय ने अब तक 25 लाख खर्च किया

जीरो बजट वाले प्रत्याशी भी


वाराणसी। वाराणसी संसदीय सीट के लोकसभा चुनाव के प्रचार खर्च में ऐसा लगता है भाजपा और कांग्रेस में होड़ लगी है। कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय पीएम नरेन्द्र मोदी समेत सभी प्रत्याशियों से आगे निकल गए हैं। नामांकन से लेकर 16 मई तक के प्रचार में अजय राय ने अब तक 25 लाख, भाजपा प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी ने 14 मई तक 24 लाख जबकि सपा प्रत्याशी शालिनी यादव ने नौ लाख 71 हजार 3०9 रुपये खर्च किए हैं। गुरुवार को सभी प्रत्याशियों ने व्यय प्रेक्षक रविकांत गुप्ता को चुनावी खर्च का हिसाब सौंपा।
विवरण के अनुसार प्रत्याशियों ने अब तक तय सीमा के मुकाबले आधा खर्च भी नहीं किया है। प्रत्याशियों की ओर से 17 से 19 मई के बीच हुए खर्च का ब्यौरा जून के तीसरे सप्ताह में दिया जाएगा।
अजय राय ने 15 मई को प्रियंका गांधी के रोड शो के दौरान चाय-पानी व नाश्ता, बैनर, पोस्टर आदि पर एक लाख रुपये से ज्यादा खर्च दिखाया है। तीनों बड़े दलों के प्रत्याशियों का सबसे ज्यादा खर्च नुक्कड़ सभाओं पर हुआ है। इसके बाद ईंधन, गाड़ी के किराए पर खर्च किया गया है।
11 मई को सौंपे गए दस्तावेज के अनुसार भाजपा प्रत्याशी पीएम नरेंद्र मोदी ने पांच मई से दस मई के बीच दस लाख रुपये से ज्यादा खर्च किए थे। वहीं, कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय ने छह से 11 मई के बीच सात लाख रुपये से ज्यादा खर्च किया था। छह मई को सौंपे दस्तावेज में पीएम मोदी ने करीब साढ़े आठ लाख, अजय राय ने पांच लाख 19 हजार रुपये और सपा प्रत्याशी शालिनी यादव ने 11 मई को तीन लाख 71 हजार 966 रुपये खर्च दिखाया था।
इस लोकसभा चुनाव में एक प्रत्याशी जीरो बजट वाले भी हैं। उन्होंने अब तक अपने ब्योरे में एक रुपया भी खर्च नहीं किया है। महाराष्ट्र से आए निर्दल प्रत्याशी मनोहर आनंद राव पाटिल की दिनचर्या सुनकर अधिकारी दंग रह गये। मनोहर राव ने बताया कि वह मंदिर में रहते हैं, सत्तू खाते हैं और पैदल प्रचार करते हैं।